click to enable zoom
Loading Maps
We didn't find any results
open map
View Roadmap Satellite Hybrid Terrain My Location Fullscreen Prev Next
Advanced Search
We found 0 results. Do you want to load the results now ?
Advanced Search
we found 0 results
Your search results

नौकरी से नहीं खेती से मिली है पहचान और बन गए खेती के हाई टेक गुरु – गांव गुरु

Posted by Pramod on April 16, 2018
| 2 Comments

राजस्थान के युवक महेंद्र सिंह दाहिमा ने महाविद्यालय की नौकरी छोड़कर बागवानी कर अधिक लाभ कमाया| वह अपने ग्रीन हाउस से वार्षिक सात से आठ लाख रूपय कमा लेते हैं| उन्होंने ग्रीन हाउस से खेती का कार्य वर्ष 2015 से शुरू किया था| इस बीच उन्होंने अपनी एक अलग पहचान स्थापित कर ली है| अन्य युवक उनको एक उदाहरण के तौर पर देखते हैं| ग्रीन हाउस में टमाटर, शिमला मिर्च व खीरा आदि की खेती करते हैं|

उल्लेखनीय है कि वह अपने पिता के सेवाकाल के दौरान ग्रीन हाउस में रुचि रखते थे| जिस से प्रेरित होकर उन्होंने महाविद्यालय की सेवा छोड़कर खेती करना शुरू की| ग्रीन हाउस की हाईटेक खेती कर वह दो पालीहाउस व नेट सेट के जरिए आज सफल किसान के तौर पर अच्छी आमदनी हासिल कर रहे हैं|

वह सीजन के अनुरूप खेती करते हैं| उगाई गई सब्जियों को वह आसपास के शहरी इलाकों में बेचते हैं| जाहिर है कि शहरी इलाकों के आसपास वहां सब्जी की अच्छी मांग है|

इस दौरान वह सब्जी की सीजनल खेती से युवाओं को प्रशिक्षण भी दे रहे हैं| यही नहीं किसानों को भी वह पालीहाउस के अंतर्गत किसानी के गुर सिखाते हैं| लेकिन युवाओं को खेती में रूचि बढ़ाने के लिए वह उन्हें ग्रीनहाउस का मॉडल के अनुसार प्रशिक्षित करते हैं|

2 thoughts on “नौकरी से नहीं खेती से मिली है पहचान और बन गए खेती के हाई टेक गुरु – गांव गुरु

  • on April 16, 2018

    Good article. Thanks for sharing.

    • Pramod
      on May 3, 2018

      your most welcome brother…

Leave a Reply

Your email address will not be published.