click to enable zoom
Loading Maps
We didn't find any results
open map
View Roadmap Satellite Hybrid Terrain My Location Fullscreen Prev Next
Advanced Search
We found 0 results. Do you want to load the results now ?
Advanced Search
we found 0 results
Your search results

30th मार्च की दैनिक खेती की खबरें

दैनिक खेती की खबरें

1. वैज्ञानिक तरीके से खेती करने पर हो सकता है दोगुना लाभ : जिला कृषि कार्यालय में कृषि प्रौद्योगिकी प्रबंध अभिकरण आत्मा द्वारा शुक्रवार को दो दिवसीय कृषि यांत्रिकरण शहर उत्पादन मेला एवं प्रदर्शनी का आयोजन किया गया।

2. जूनागढ़ एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी में 101 पद : जूनागढ़ एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी ने डायरेक्टर, प्रफेसर व असोसिएट प्रफेसर के 101 पदों पर वैकेंसी का नोटिफिकेशन निकाला है। इन पदों की रिजर्व्ड कैटेगरी पर सिर्फ गुजरात के स्थाई निवासी ही अप्लाई कर सकते है।

3. ट्रेच विधि से गन्ना बोआई करें : किसान सहकारी चीनी मिल महमूदाबाद द्वारा रेउसा में बसंत कालीन कृषक गोष्ठी का आयोजन किया गया। गन्ना शोध संस्थान शाहजहांपुर के वैज्ञानिकों ने किसानों का मार्ग दर्शन किया और बेहतर गन्ना उत्पादन के तरीके बताए.

4. नुकसान हो तो उपभोक्ता फोरम का दरवाजा खटखटा सकते हैं किसान : किसान अपने नुकसान की भरपाई कर सकता है और वह है ‘उपभोक्ता फोरम’।

5. हरियाणा और मध्य प्रदेश में गर्मी बढ़ने की आशंका, पूर्वोत्तर में बारिश : मौसम विभाग के अनुसार आगामी 24 से 48 घंटों के दौरान दक्षिणी हरियाणा के साथ ही उत्तरी मध्य प्रदेश के कुछेक हिस्सों में गर्मी बढ़ने से लू चलने की आशंका है।

6. बीस लाख टन चीनी निर्यात की अनुमति के बावजूद भी भाव में सुधार नहीं : घरेलू बाजार में चीनी की कीमतों में सुधार लाने के लिए केंद्र सरकार लगातार प्रयास कर रही है, लेकिन घरेलू बाजार में चीनी के बंपर उत्पादन अनुमान और विश्व बाजार में इसके दाम नीचे होने के कारण चीनी की कीमतों में सुधार नहीं

7. देसी बीज एवं पौधों के संरक्षण से ही टिकाऊ खेती संभव : देसी बीज और पौधों के विभिन्न किस्मों का निबंधन कराया जाता है। केंद्र सरकार की ओर से निबंधन पौधा किस्म एवं कृषक अधिकार संरक्षण अधिनियम के तहत यह व्यवस्था की गयी है।

8. पारिस्थितिकी तंत्र संतुलन के लिए अपनाएं जैविक खेती : कृषि वैज्ञानिक : बाजार में अपने उत्पादों की अधिक कीमत पाने और पारिस्थितिकी संतुलन के लिए यह जरूरी है कि किसान जैविक खेती को अपनाएं। जैविक खेती से न केवल भूमि की उर्वरा शक्ति बढ़ती है बल्कि कृषि की लागत भी कम आती है

9. बरहट का केडिया बना कुदरती खेती की पाठशाला : केडिया की जैविक खेती अब आसपास के जिले के लोगों के लिए पाठशाला बन गयी है। देश-विदेश के लोग जहां केडिया की जैविक खेती देखने पहुंचने लगे वहीं आसपास के जिले के लोग जैविक खेती का प्रशिक्षण पाने केडिया गांव आने लगे हैं।

10.नई तकनीक से खेती की दी गयी जानकारी : बरदाहा पंचायत के मोहनपुर सामुदायिक भवन में शुक्रवार को कृषक पाठशाला प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। आत्मा योजना के तहत आयोजित प्रशिक्षण में मूंग, मक्का और गरमा फसल के बारे में किसानों को जानकारी दी गयी।

11. यूपी के किसानों को स्ट्रॉबेरी की खेती सिखाएगा बीएयू : यूपी के किसानों को स्ट्रॉबेरी की खेती सिखाएगा बीएयू बिहार कृषि विश्वविद्यालय सबौर अब उत्तरप्रदेश के किसानों को स्ट्रॉबेरी के विभिन्न किस्मों की खेती की तकनीक सिखाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.